Google+ Followers

गुरुवार, 9 अप्रैल 2015

तू ही बता....



तू ही बता ए-ख़ुदा 
खुद से
        ख़ुदी को!
यानी...
        मुझको
        मुझसे
        मुझी को।


ढूँढूँगा बाद में
          दुनिया में
          दुनिया को
पहले...      
          खुद में
          खुद से
          ख़ुदी को।


समझा ए-मोहब्बत
        मोहब्बत को

है माँगा मैंने
           उसको
           उससे

           उसीको।








पुरानी डायरी के झरोखे से...
२००६ में!

योगदानकर्ता